वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उज्जैन श्री सत्येन्द्र कुमार शुक्ल के निर्देशानुसार उज्जैन शहर में वाहन चोर अपराधियों की धरपकड़ के लिए लगातार अभियान चलाए जा रहे हैं, उपरोक्त निर्देशों के पालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) डॉ इंद्रजीत बाकलबार नगर पुलिस अधीक्षक श्री ओपी मिश्रा के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी महाकाल श्री मुनेन्द्र गौतम के नेतृत्व में दो वाहन चोरों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की गई । उक्त आरोपियों पर थाना महाकाल, थाना माधवनगर एवं थाना चिमनगंज क्षेत्र से चुराई गई 10 मोटरसाइकिल बरामद की गई।

 घटना का संक्षिप्त विवरण —
दिनांक 18.05.22 को फरियादी द्वारा थाना महाकाल आकर अपनी एक होंडा एक्टिवा दो पहिया वाहन की चोरी हेतु रिपोर्ट दर्ज एक करवाई गई थी।

 पुलिस कार्यवाही —
थाना महाकाल की पुलिस टीम को दिनांक 18.05.20 को शंकराचार्य चौराहे पर एक होंडा एक्टिवा गाड़ी पर संदिग्ध व्यक्ति दिखाई दिया, जो पुलिस टीम को देखकर भागने लगे जिसे पुलिस टीम द्वारा पकड़ा व उक्त होंडा एक्टिवा के कागजात के बारे में पूछताछ की गई तो संदेही द्वारा संतोषजनक जवाब नहीं दिया गया एवं होंडा एक्टिवा में चाबी भी लगी हुई नहीं पाई गई। पुलिस टीम द्वारा हिकमत अमली से पूछताछ करते संदेही द्वारा बताया गया कि उक्त होंडा एक्टिवा को दो-तीन दिन पहले अपने साथी के साथ मिलकर भूखी माता क्षेत्र से चोरी करना स्वीकार किया आरोपी के बताए अनुसार आरोपी के अन्य साथी को गिरफ्तार किया गया।
आरोपी गणों से की गई पूछताछ में उनके द्वारा शहर के माधवनगर, चिमनगंज एवं महाकाल क्षेत्र से चुराई गई मोटरसाइकिल को उनकी टीम द्वारा चोरी करना स्वीकार किया एवं चुराई गई उक्त मोटरसाइकिल को आरोपी के बताए अनुसार उनके घरों से बरामद किया गया आरोपी के कब्जे से 10 मोटरसाइकिल कीमत लगभग ₹4,30,000 बरामद की जा चुकी है एवं अन्य वाहन चोरी की वारदातों के बारे में शहर के सभी थानों की पुलिस द्वारा पूछताछ की जा रही है।

 आपराधिक रिकार्ड —
उक्त दोनों आरोपीगणों पर थाना महाकाल, चिमनगंज एवं माधव नगर पर चोरी की धाराओं में कुल 7 अपराध पंजीबद्ध है।

 जब्त सुदा माल/मश्रुका —
आरोपियों से 10 मोटरसाइकिल कीमती लगभग ₹4,30,000 की बरामद।

 सराहनीय भूमिका —
थाना प्रभारी महाकाल श्री मुनेन्द्र गौतम, उप निरीक्षक राजेंद्र जाधव, उप निरीक्षक बल्लू मंडलोई, उप निरीक्षक गोपाल राठौर, सहायक उपनिरीक्षक वीरभद्र सिंह, प्रधान आरक्षक दिनेश राव, प्रधान आरक्षक अवधेश कुशवाह, प्रधान आरक्षक बलवान, आरक्षक रवि पटेल, आरक्षक शुभम तिवारी एवं समस्त टीम का विशेष योगदान रहा।