❇️ शहर/देहात थाना क्षेत्रो मे ब्रीथ एनालाइजर एवम् बॉडी बोर्न कैमरे का उपयोग करते हुए की जा रही है वाहन चेकिंग ।
❇️ 16 मोडिफाइड साइलेंसर एवम् 02 ड्रिंक एंड ड्राइव प्रकरण तैयार कर आरोपियों पर की गई न्यायालीन चालानी कार्रवाई।
❇️ कुल करीब 4000 वाहन चैक किए जाकर 207 वाहन पर चालानी कार्रवाई करते हुए, कुल 56,050 (छप्पन हजार पचास रुपए) की राशि शासन कोष में किए गए जमा।

पुलिस अधीक्षक श्री सत्येन्द्र कुमार शुक्ल द्वारा आगामी त्यौहारों को शांति पूर्वक निर्विघ्न सम्पन्न कराने ,यातायात व्यवस्था को सुगम बनाने एवं शहर/ देहात में सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम,सड़को पर उत्पात मचाने वालों पर कठोरतम कार्यवाही करने और उनकी गाडियां जप्त करने हेतु चिन्हित स्थानों पर एडवांस टेक्नोलॉजी उपकरण ब्रीथ एनालायजर मय बॉडी बोर्न कैमरे का प्रयोग कर सख्ती से वाहन चैकिंग करने हेतु निर्देशित किया गया।
इसी क्रम में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (शहर) श्री अभिषेक आनंद , अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक (ग्रामीण) श्री आकाश भूरिया, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ इंद्रजीत वाकलबार के निर्देशन में शहर एवम् देहात के नगर पुलिस अधीक्षकगण/ अनुविभागीय अधिकारीगण / उप पुलिस अधीक्षक गण(यातायत) के मार्गदर्शन में शहर/देहात के थाना क्षेत्रों में चिन्हित मुख्य स्थानों पर जिगजैग वे में बैरिकेडिंग कर थाना प्रभारीगण द्वारा थाना बल व यातायात पुलिस बल के साथ संयुक्त रूप से ब्रीथ एनालायजर व बॉडी बोर्न कैमरे, ट्रैफिक जैकेट के साथ चैकिंग कर यातायात नियम ड्रंक एंड ड्राइव, मॉडिफाइड साइलेंसर, ट्रिपल राइडिंग, बिना हेलमेट आदि का उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध चालानी कार्रवाई की जा रही है।
इस प्रकार उज्जैन पुलिस द्वारा वाहन चैकिंग के दौरान कुल करीब 4000 वाहन चैक किए गए, 207 वाहन पर चालानी कार्रवाई की गई, जिनमे से 16 वाहनों को मोडिफाइड सायलेंसर होने तथा दो व्यक्ति पर ड्रिंक एंड ड्राइविंग का प्रकरण बनाकर उन्हें जप्त किया गया है ,उक्त प्रकरणों को माननीय न्यायालय प्रस्तुत किया जायेगा इस प्रकार कार्रवाई करते हुए कुल 56,050 (छप्पन हजार पचास रुपए) की राशि शासन कोष में जमा की गई।
उज्जैन पुलिस द्वारा वाहन चैकिंग का मुख्य उद्देश्य त्यौहारो के दृष्टिगत शांति एवं कानून-व्यवस्था, सुरक्षा व्यवस्था को अधिक सुदृढ बनाना एवं लोगो में सुरक्षा का भाव जागृत करना है।साथ ही राहगीरों को हेलमेट लगाकर व तीन सवारी न चलने हेतु समझाइश दी जा रही है।